लोन लेने वाले ग्राहकों को आरबीआई ने दिया बड़ा झटका, RBI ने मीटिंग में किए यह बड़े ऐलान

RBI एक बार फिर बढ़ा सकता है लोन पर ब्याज दर

RBI New Update: RBI पिछले कुछ महीनों से रेपो रेट में लगातार बढ़ोतरी कर रहा है जहां इस बार आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास की तरफ से रेपो रेट को बढ़ाने से जुड़े कुछ संकेत सामने आए हैं। गवर्नर का कहना है कि यदि भारत की करेंसी ऐसे ही गिरती रही तो लंबे समय तक रेपो रेट में इज़ाफा जारी रहेगा। ऐसे में उन सभी लोगों को बड़ा झटका लगा है जो बैंक से लोन लेना चाहते हैं क्योंकि आरबीआई की रेपो रेट में बढ़ोतरी का सीधा असर बैंकों पर होता है जहां बैंक अधिक रेपो रेट का दबाव कम करने के लिए ग्राहकों पर अधिक ब्याज दर चार्ज करती हैं।

लंबे समय तक होगा ब्याज दरों में इजाफा

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास का कहना है कि यदि यूक्रेन कनफ्लिक्ट जारी रहा तो इंटरेस्ट रेट्स लंबे समय तक हाई बनी रहेगी। ऐसे में निश्चित तौर पर कार लोन और होम लोन लेने वाले व्यक्तियों को बड़ा नुकसान हो सकता है। गवर्नर का मानना है कि सप्लाई चैन और वैश्विक मुद्रा कोष में आ रही भारी गिरावट के चलते वैश्विक स्तर और भारतीय स्तर पर लगातार महंगाई और बैंकों पर ब्याज दर अधिक बढ़ेगी।

RBI बढ़ाएगी रेपो रेट

आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास के इन संकेतों यह पूरी संभावनाएं बन रही है कि आरबीआई जल्द ही रेपो रेट में कुछ प्रतिशत का इजाफा करेगी। वर्ष 2022 से आरबीआई ने लगातार कई बार रेपो रेट में इजाफा किया है जहां अब वर्ष 2023 में महंगाई और मुद्रा कोष के गिरने की मार को कम करने के लिए आरबीआई एक बार फिर रेपो रेट में इजाफा कर सकती है।

पिछले कुछ महीनों में इतना बढ़ा रेपो रेट

पिछले कुछ महीनों में आरबीआई ने लगातार रेपो रेट में बढ़ोतरी की जहां यदि वर्ष 2022 की बात की जाए तो 4 मई 2022 को रेपो रेट 4.0% से बढ़कर 4.40% हुई थी वही उसके अगले महीने यानी 8 जून 2022 में यह रेपो रेट 4.40% से बढ़कर 4.90% तक पहुँच गयी थी। उसके बाद आरबीआई ने 5 अगस्त 2022 को ब्याज दर 50 पॉइंट बढ़ाकर 5.40% कर दी थी और अब 30 सितंबर 2022 को रेपो रेट 5.90% हो चुकी थी। वहीं वर्ष 2022 के आखिरी 2 महीनों में भी आरबीआई ने रेपो रेट में बढ़ोतरी की थी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *