अब आधार से कर सकते हैं यूपीआई का उपयोग, सर्विस का ऐसे उठाएं लाभ

Upi service latest update: डेबिट कार्ड के द्वारा ऑथेंटिकेशन करने के बाद यूपीआई का उपयोग करने वाली तकनीकी में खामियां होने की वजह से आरबीआई(RBI), एनपीसीआई(NPCI) और यूआईडीएआई (UIDAI) ने आधार ऑथेंटिकेशन वाली तकनीकी को शुरू किया है। यह सुविधा ऑनलाइन ट्रांजैक्शन के क्षेत्र में एक बड़ी फिनटेक कंपनी फोनपे(PhonePe) ने शुरू की है। इस सुविधा के द्वारा फोनपे यूजर्स आधार से यूपीआई जोड़कर ऑनलाइन ट्रांजैक्शन कर सकते हैं। इस सर्विस में आधार के द्वारा ऑथेंटिकेशन किया जाता है। यह सर्विस डेबिट कार्ड द्वारा ऑथेंटिकेशन का नया रूप है।

अगर आपने यूपीआई सर्विस का उपयोग किया होगा तो आप जानते होंगे की सर्विस शुरू होने से पहले डेबिट कार्ड की डिटेल्स द्वारा ऑथेंटिकेशन पूरा किया जाता है। कुछ विशेष परिस्थितियों में दिक्कतों का सामना भी करना पड़ता है। इन्हीं समस्याओं से निजात पाने के लिए फोनपे अब डेबिट कार्ड की जगह आधार से ऑथेंटिकेशन करने की सुविधा देता है।

फोन पे का कहना है की आधार बेस्ड ऑथेंटिकेशन की इस सेवा से डेबिट कार्ड की बाध्यता समाप्त हो जाएगी। इस सुविधा का एक और फायदा या रहेगा की आपके आधार द्वारा जितने भी बैंक अकाउंट लिंक है आप उन सब का उपयोग कर सकते हैं। फोनपे इस सुविधा के माध्यम से दूरदराज के क्षेत्रों में जहां बैंक की शाखाएं नहीं है वहां के लोग भी डिजिटल ट्रांजैक्शन का उपयोग कर पाए।

इस तरह लाभ उठायें यूपीआई की नई सेवा का

इस सुविधा का उपयोग करने के लिए आपको यूपीआई एप में अपना 12 अंकों का आधार नंबर डालना होगा। जिसके बाद आधार से लिंक मोबाइल नंबर पर UIDAI की तरफ से 6 अंकों का ओटीपी(OTP) मिलेगा। साथी आपके आधार से लिंक बैंक का ओटीपी वाला संदेश भी प्राप्त होगा। वेरीफिकेशन प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद आप यूपीआई सर्विसेस का लाभ उठा सकते हैं।

क्या हो सकते थे और बदलाव

आधार बेस्ड वेरिफिकेशन प्रक्रिया के कई फायदे के साथ कुछ खामियां भी है। अगर आपका आधार किसी मोबाइल नंबर से लिंक नहीं है तो आपको आधार अपडेट करवाना पड़ेगा। इस सुविधा के लिए यह भी जरूरी है कि आपका बैंक अकाउंट आपके आधार से लिंक हो।

Spread the love

Lakhan singh

Professional article writer

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *