सरकार की इस योजना से होगा बेटियों को 74 लाख रुपए का फायदा, देखिए आवेदन की प्रक्रिया और पात्रता

सुकन्या समृद्धि योजना एसएसवाई : बेटियों को मिलते हैं 74 लाख रुपए, यहां करना होता है आवेदन ,सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) भारत सरकार द्वारा में “बेटी बचाओ, बेटी पढाओ” अभियान के तहत एक योजना चलाई गई थी जिसमें देश की बेटियों को पढ़ाई के लिए सरकार द्वारा योजना में आर्थिक सहायता दी जाती है। इस योजना का उद्देश्य माता-पिता को अपनी बेटियों की भविष्य की शिक्षा और शादी के खर्चों के लिए बचत करने के लिए प्रोत्साहित करके भारत में बेटियों के लिए वित्तीय सुरक्षा प्रदान करना है।

ऐसे काम करेगी सुकन्या समृद्धि योजना

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) के तहत, माता-पिता या कानूनी अभिभावक अपनी 10 साल से कम उम्र की बेटी के नाम पर बचत खाता खोल सकते हैं। खाता खोलने के लिए न्यूनतम जमा रु. 250, और प्रति वर्ष 1.5 लाख की अधिकतम राशि जमा करनी होती है। खाते में किए गए जमा पर सरकार द्वारा निर्धारित दर पर ब्याज मिलता है, जो वर्तमान में 7.6% प्रति वर्ष है। अभिभावकों द्वारा इस योजना मे बालिका की अधिकतम 21 वर्ष तक निवेश किया जा सकता है।

21 वर्ष की आयु के बाद मिलेंगे 74 लाख रुपए

सुकन्या समृद्धि योजना ( Sukanya Samradhi Yojana) के महत्वपूर्ण लाभों में से एक यह है कि यह निवेश अंत मे आपको बड़ा मूल्य प्रदान करेगा। बालिका को इस योजना मे 21 वर्ष की आयु के पश्चात 74 लाख रुपए मिल जाते हैं। इस राशि का उपयोग उसकी उच्च शिक्षा या शादी के खर्च के लिए किया जा सकता है। यह योजना कुछ शर्तों के अधीन, बालिका की शिक्षा या विवाह के उद्देश्य से खाते से निकासी की भी अनुमति देती है।

योजना के लिए ऐसे होगा आवेदन

SSY खाता खोलने के लिए, माता-पिता या कानूनी अभिभावकों को पास के डाकघर या अधिकृत बैंक शाखाओं में जाना होगा। उन्हें एक आवेदन पत्र भरना होगा और इसे आवश्यक दस्तावेजों जैसे कि बालिका के जन्म प्रमाण पत्र और जमाकर्ता की पहचान और पते के प्रमाण के साथ जमा करना होगा। सभी दस्तावेज जमा करने के बाद बैंक आया नजदीकी संस्थान द्वारा आगे की प्रक्रिया पूरी की जाएगी जिसमें बालिका का एक बचत खाता खुलेगा जिसके बाद हो जायेंगे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *